how to invest in share market with technical analysis 2

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

bullish candlestick chart pattern

 

Learn Bullish candlestick charts Pattern

 

How to invest in share market technical analysis tutorial 2 में आज हम यहाँ पर सारी bullish candlestick pattern जैसेकि bullish piercing, bullish engule, hammer at bottom, morning star, etc…के बारे में जानेंगे.
दोस्तों पहले में आपको Candlestick chart pattern  के बारे में बतादू की ये बहुत सालो से जापानीज ट्रेडर use  करते थे और अभी भी करते हे, तो ये जापानीज Candlestick chart pattern एनालिसिस से भी जानी जाती हे, ये शार्ट टर्म ट्रेडिंग के लिए बहुत ही बढ़िया रिजल्ट देती हे, लेकिन अगर आप इसे weekly और monthly चार्ट पे use  करे तो आपको लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट में भी ये बहुत ही हेल्पफुल हे, सबसे बढ़िया Candlestick chart pattern में ये हे की ये इजी तो अंडरस्टैंड हे, और आप Bullish और Bearish Candlestick chart pattern देखके Buy, Sell, Hold, और इन्वेस्मेंट का Decision आसानी से ले सकते हो.

तो आइये शुरू करते हे Bullish candlestick pattern के बारेमे …..

Bullish candlestick pattern kya he?

 

Bullish candlestick chart pattern मतलब की जब भी एक candle या फिर दो या तिन candle मिलके कोई भी स्टॉक में जो भी pattern बनती हे उसके बाद वो Particular stock ऊपर की तरफ move करता हे, यानि की वो स्टॉक Bullish बनता हे,
Bullish candlestick chart pattern  देखके हम ये Predict करते हे की अब हम ये स्टॉक को Buy कर सकते हे, या फिर हमने already Buy किया हुवा हे तो उसको Hold कर सकते हे,क्योकि Bullish candlestick chart pattern आने के बाद Maximum टाइम मार्किट या फिर जोभी स्टॉक में ये pattern आये हे वो ऊपर की तरफ Move करता हे.

Bullish candlestick pattern kon kon se he?

हेलो दोस्तों में आज आपको यहाँ पे टोटल 4 Bullish candlestick chart pattern के बारे में बताने वाला हु.

 

  • Hammer ‘AT BOTTOM’:-

Hammer  मतलब की हथोड़ा, आप निचे का Hammer candlestick  pattern का स्क्रीन शॉट देखिये,   हथोड़े जैसे candlestick हे, ये एक single candle bullish pattern पैटर्न हे,

hammer bullish candlestick pattern

दोस्तों ये hammer candle मेरी सबसे ज्यादा पसंदीदा candle हे, हमें ये जानना जरुरी हे ये hammer candle कब आती हे, तो आप मेरा ऊपर का टाइटल देखोगे तो मेने लिखा हे Hammer ‘at bottom’ , मतलब की जब शेयर मार्किट कई दिनों से गिर रहा हो और अगर बॉटम (निचे) में ये hammer candle आती हे ( जैसे की आप चार्ट में देख सकते हो ) तो उसके बाद वो particular स्टॉक ऊपर की और जाता हे.

अब जानते हे की ये हैमर Candle बनती कैसे हे,
जब कभी भी मार्किट ओपन डाउन होता हे, फिर और बहुत निचे जाता हे, (मतलब की उस दिन स्टार्ट में seller हावी होते हे ) फिर बहुत निचे जाने के बाद जोभी buyer होते हे और जोभी बड़े बड़े खिलाडी होते हे उन्हें लगता हे की अब stock बहुत निचे आ गया हे तो वो लोग (जोकि strong hand होते हे ) stock buying शुरू कर देते हे. और फिर वो स्टॉक उस दिन के ओपन से भी हाई जाता हे, और फिर मार्किट क्लोज होते होते वो high पे ही क्लोज होता हे. आप निचे का candle देखिये…जो की निफ़्टी का candle हे… (जिसमे निफ़्टी 8029 पे open हुवा, फिर 7927 तक निचे गया, और बाद उसने 8101 का high लगाया और open से ऊपर 8089 पे क्लोज हुवा)

hammer candle

 

Hammer का कैंडल ग्रीन और वाइट , और ब्लैक और रेड भी हो सकता हे,

जब ब्लैक और रेड candle आता हे उसमे भी मार्किट या स्टॉक निचे से ऊपर तो आता ही हे, लेकिन वो क्लोज ओपन के निचे होता हे, इसलिए ब्लैक और रेड candle आता हे.

ये hammer candle हमें तभी beneficial  होती हे, की मार्किट गिर रहा हो और बाद में ये hammer candle आये, क्योकि निचे से इसमें strong hand  ( FII, DII , बड़े बड़े म्यूच्यूअल फण्ड ) BUY करते हे. और वो लोग अच्छा प्रॉफिट लेके ही बेचने में मानते हे, इसलिए इस hammer candle के बाद मार्किट bullish हो जाता हे और second day से ऊपर जाना शुरू करता हे,ये  hammer candle मार्किट का बॉटम भी decide करता हे.

 

  • Bullish Engule:-

 

ये डबल candle pattern हे, यानि की दो candle मिलके ये bullish engule candlestick pattern बनती हे,
अगर ये दो candle के क्राइटेरिया देखेंतो एक candle  रेड या ब्लैक होती हे, और second candle ग्रीन या वाइट होती हे, और जो ग्रीन candle होती हे वो रेड candle से बड़ी होती हे, मतलब की ग्रीन candle रेड candle को पूरी निगल जाती हे,

bulish engule

आप ऊपर का स्क्रीन शॉट देख सकते हो जिसमे रेड और वाइट candle हे, और वाइट candle रेड candle से बड़ी हे और उसको पूरी तरह निगल गई हे.

अगर मार्किट गिर रहा हो और निचे ये दो candle साथ में आती हे जिसमे पहले रेड candle आती हे और बाद में ग्रीन candle आती हे, मतलब की एक दिन मार्किट में बहुत ज्यादा selling हुई हे और दूसरे दिन जितनी selling हुई हे उस से ज्यादा buying हुई हे. तो एक Trend reversal pattern बनती हे, और फिर मार्किट ऊपर की तरफ मूव करने लगता हे. इसलिए इसको Bullish engule candlestick pattern बोलते हे.

अगर इन दो candle को हम समजे तो एक दिन बहुत selling हुई बाद में दूसरे दिन मार्किट निचे ओपन हुवा और फिर धीरे धीरे ऊपर आना स्टार्ट हुवा और अच्छी buying की वजह से वो कलके high से भी ऊपर close हुवा…..

निचे देखिये Reliance का डेली चार्ट हे और उसमे Bullish engule candlestick pattern आने के बाद वो ऊपर आया हे..

RELIANCE_Daily_11-07-2016

 

  • Bullish Piercing

 




ये भी डबल candle pattern हे, यानि की दो candle मिलके ये Bullish piercing candlestick pattern बनती हे,
अगर ये दो candle के क्राइटेरिया देखेंतो एक candle रेड या ब्लैक होती हे, और second candle ग्रीन या वाइट होती हे,

अगर मार्किट गिर रहा हो और निचे ये दो candle साथ में आती हे जिसमे पहले रेड candle आती हे और बाद में ग्रीन candle आती हे, मतलब की एक दिन में मार्किट में बहुत ज्यादा selling हुई हे और दूसरे दिन जितनी selling हुई हे उस से ज्यादा buying हुई हे. तो एक Trend reversal pattern बनती हे, और फिर मार्किट ऊपर की तरफ मूव करने लगता हे.

bullish piercing

आप ऊपर का स्क्रीन शॉट देख सकते हो जिसमे रेड और वाइट candle हे, और वाइट candle ने लास्ट day high से ऊपर नहीं गई हे लेकिन वो उसके mean ( मतलब की बिच का जो पार्ट हे (ओपन और क्लोज के एवरेज प्राइस ) )उसके ऊपर close हुई हे, मतलब की yesterday का जो close था उसके निचे आज स्टॉक ओपन होता हे फिर वो बढ़के जो कल्कि candle का mean होता हे उसके ऊपर close होता हे.

आप निचे Kotak Bank का weekly चार्ट देख सकते हो, जिसमे Bullish piercing candlestick pattern आने के बाद स्टॉक ऊपर की तरफ मूव हुवा हे.

Bullish piercing candlestick pattern

 

  • Morning Star:-

 

Morning star में तिन candle pattern हे, यानि की तिन candle मिलके ये Bullish Morning star candlestick pattern बनती हे,
अगर ये तिन candle के क्राइटेरिया देखेंतो एक candle रेड या ब्लैक होती हे, फिर एक बिच की (Doji) डोजी candle होती he होती हे,और लास्ट तीसरी candle ग्रीन या वाइट होती हे,

( डोजी वो candle होती हे जिसमे ओपन और क्लोज same होता हे, मतलब जहां पे स्टॉक ओपन होता हे वोही प्राइस पे स्टॉक क्लोज होता हे)

 

अगर मार्किट गिर रहा हो और निचे ये 3 candle साथ में आती हे जिसमे पहले रेड candle आती हे फिर Doji (डोजी)और बाद में ग्रीन कैंडल आती हे, मतलब की एक दिन में मार्किट में बहुत ज्यादा selling हुई हे और दूसरे दिन seller or buyer same हे मतलब की स्टॉक प्राइस न down जा रहा हे ना up आ रहा हे , फिर तीसरे दिन buying हुई हे. तो एक trend reversal pattern बनती हे, और फिर मार्किट ऊपर की तरफ मूव करने लगता हे. आप निचे का स्क्रीन शॉट देख सकते हो.

morning star bullish reversal pattern

 

दोस्तों मेरे हिसाब से ये चारो bullish candlestick pattern बहुत ही Important हे, और मुझे ये चारो पैटर्न ही पसंद हे, इसमें से Hammer at bottom पसंदीदा candle हे.

ये चारो Bullish candlestick pattern हे, मार्किट में जब डाउन ट्रेंड होता हे यानिकि मार्किट निचे आ रहा होता हे, बाद में अगर इन चारो में से कोई एक पैटर्न आता हे तो फिर वो trend रिवर्सल हो सकता हे और मार्किट ऊपर की तरफ मूव करता हे.

मेरे ख्याल से ऐसा हर बार नहीं होता हे पर maximum टाइम ट्रेंड रिवर्सल होता हे और मार्किट या जोभी स्टॉक में ये pattern आते हे वो ऊपर मूव करते हे.

जब कभी भी ये चारो पैटर्न आते हे तो आपको stock volume देखना  हे  white और green candle आई हे उस दिन का अगर वो लास्ट 10 दिन के एवरेज वॉल्यूम से ज्यादा होता हे या बहुत ज्यादा होता हे तो Bullish reversal होने के चान्सेस बहुत ही HIGH होते हे.





next tutorial में , में आपको Bearish candlestick pattern के बारेमे बतावुगा जो की technical analysis के लिए बहुत ही इम्पोर्टेन्ट हे.

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
,

Post navigation

One thought on “how to invest in share market with technical analysis 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *