Google analytics me website visitors track kaise kare?

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Google analytics me website visitors track kaise

 

how to read google analytics in Hindi

 

google analytics में track web site visitors मतलब की
अपने website analytics tracking को check करने के लिए आपको निचे के कुछ terms का पता होना चाहिए,

आपको पहले google analytics में Reporting में audience में overview में जाना हे.

आप निचे का स्क्रीन शॉट देखिये जिसमे कुछ analytics के लिए word दिए हुवे हे, जिसको हम समझते हे.

 

website analytics check kaise kare

 

Sessions :- session मतलब की आपकी website last day में कितनी बार open हुई , अगर आपकी वेबसाइट पे 10 user आये और उन्होंने वेबसाइट को ओपन किया तो आपके 10 session होते हे, अभी अगर इसमें से कोई user आपकी वेबसाइट को दिन में अलग अलग टाइम पे 6 बार ओपन करता हे तो आपके user 10 ही रहेंगे और आपके session 15 होगे.

Users :- यहाँ आपकी वेबसाइट पे दिन में कितने user आते हे ये पता चलता हे, user मतलब की आपकी website को ओपन किया हे या ओपन करके देखा हे, अगर आपकी वेबसाइट पे एक user दिन में 6 बार अलग अलग टाइम पे आता हे और आपकी वेबसाइट को ओपन करता हे तो वो एक ही user हे लेकिन session 6 हे. इस लिए always session or user में difference हे, और session always ज्यादा होते हे.

Page views:- page view मतलब की अगर आपकी वेबसाइट पे कोई user आता हे तो एक page view होगा, बाद में वो ही user आपकी दूसरे blog artical पे क्लिक करता हे तो वो दूसरा page view होगा और इस तरह वो अगर आपके 10 blog artical देखता हे तो टोटल 10 page view वो एक ही user से आये.

Pages/ Sessions:- इसमें Pages को sessions से divide  करते हे और ये analytics आते हे , आपको ये पता चलता हे की पर session आपके page view कितने हे.

Avg. Time Duration  :- इससे ये पता चलता हे की कोई user आपकी वेबसाइट पे average कितने टाइम तक रहता हे.

Bounce Rate :-  bounce rate मतलब की आपकी वेबसाइट को कोई ओपन करते ही तुरंत बहार निकल जाता हे, ऐसा अगर ज्यादा user करते हे तो आपका बाउंस रेट ज्यादा होगा, generally हमारी वेबसाइट हिंदी में हे तो जो visitor USA या और कोई country से आते हे जिनको हिंदी नहीं आती वो लोग हमारी वेबसाइट से तुरंत बहार निकल जाते हे. अगर आपकी वेबसाइट पे कोई 30 सेकंड या 1 मिनट से कम रहके बहार निकलता हे तो आपकी वेबसाइट का Bounce rate ज्यादा आएगा.

New Session :- यहाँ पे आपको new सेशन % मिलते हे, मतलब की अगर 100 user आएंगे , उसमे से आपकी वेबसाइट पे new user अगर 75  ही आये हे , तो % 75 होगे, मतलब की बाकि के 25 आपकी वेबसाइट को देखने के लिए दुबारा आये हे इसलिए वो पुराने user हे.

Demographics:- Demographics में आपको आपकी WEBSITE पे USER कोन सी language के आये, फिर कोन सी country से आये और कोन सी city से आये ये पता चलता हे, आपको पता चलता हे की कोन सी कंट्री से मेरी वेबसाइट पे traffic ज्यादा हे.

System:- system में आपको पता चलता हे की आपकी वेबसाइट पे जो user आये हे वो Google chrome से आये हे , या फिर Mozilla से आये हे, desktop window  का या फिर MAC का हे या पता चलता हे.

Mobile:- मोबाइल में आपको मोबाइल यूजर के बारे में पता चलता हे, मतलब की आपकी वेबसाइट पे desktop से कितने यूजर आये और mobile से कितने आये ये डिटेल में पता चलता हे.

अब आप निचे का स्क्रीन शॉट देखिए जिसमे demographics के डिटेल दी हुई हे,

google analytics demographis

 

Google analytics me Acquisition kaise check kare?

अब आपको Acquisition में overview में क्लिक करना हे, उसमे आपको पता चलता हे की आपकी वेबसाइट पे जो visitors आये वो कहा से आये, मतलब की Social media से आये , या फिर Organic से आये , या फिर Direct से आये , या फिर Referral से आये. आप निचे का स्क्रीन शॉट देख सकते हे.

read google anlytics

तो आइये इन सब को समझते हे

Social:- मतलब की आप अपने blog आर्टिकल की Link को Facebook (Facebook group, Facebook pages), Twitter, Google Plus और दूसरी जोभी सोशल मीडिया (Social Media) पे Share करते हो, उसपे अगर कोई क्लिक करता हे और आपकी website को देखता हे तो वो सारी डिटेल यहाँ पर आ जाएगी, मतलब की सोशल मीडिया से आपकी वेबसाइट का कितना ट्रैफिक हे वो पता चलेगा, साथ साथ आपको फेसबुक से ज्यादा क्लिक आये, या फिर ट्विटर से या फिर गूगल प्लस से ये भी पता चलता हे तो आप ज्यादा महेनत करके अपनी website का Traffic बढ़ा सकते हो.

Direct:- जोभी आपकी  website को अपने ब्राउज़र (browser) में आपकी website का नाम डालके open करता हे, वो Direct Visitor में आता हे, मतलब की वो Google में सर्च (search) नहीं करता वो Directly आपकी website का नाम या फिर आपके Blog Title को अपने Browser में टाइप करके आपकी ही website को Open करता हे,

दूसरा जाने तो आप जो भी Email Marketing  करते हो अपनी website link की उसको अगर कोई क्लिक करके आपकी website देखता हे तो वो भी Direct में आता हे.

Organic Search:- ये बहुत ही simple हे जोभी आपकी website में Google search से आता हे वो organic सर्च हे, मतलब की कोई Google में कोई भी keyword डालके कुछ ढूंढ रहा हे और उसको लिस्ट आपकी website दिखती हे और उसपे क्लिक करता हे तो वो Organic सर्च में आएगा.




Referral:- Referral मतलब की आप जो अपनी website back link दूसरों की साइट में comment में डालते हो , और वहां से कोई आपकी वेबसाइट पे क्लिक करता हे तो वो visitor referral में आता हे, दूसरा अगर आप कोई blog कम्युनिटी (community) या forum में जो अपनी वेबसाइट link डालते हो वो और वह से कोई आपकी website link को click करके देखता हे तो वो भी रेफरल में आता हे, और अगर आपने अपनी website Monetize (मोनेटाइज) करने के लिए अपनी website को apply किया हे और अगर वो भी आपकी वेबसाइट को देखता हे तो वो भी referral में आता हे,

Google analytics me Behavior kaise check kare?

google analytics behavior

पहले आपको Behavior के overview में जाना हे,

तो आपको यहाँ पता चलता की आपने जोभी Blog Article लिखे हे उनके Page View कितने हे, मतलब की जैसे आपने एक article लिखा हे ब्लॉगिंग कैसे करते हे, तो इसके टोटल Page view यहाँ पता चलते हे, तो यहाँ आप अपने ब्लॉग आर्टिकल के page view Blog article wise देख सकते हो.

जो ब्लॉग आर्टिकल के ज्यादा page view हे वो लोगो बहुत ही पसंद आ रहा हे, और जिसके page view कम हे उसको शायद लोग देख नहीं रहे हे. तो आपको kaise blog article  और kon से Topic पे लिखे ये पता चलता हे.

Behavior में से आपको साइट की speed का भी पता चलता हे.

अब अगर आपके पास Google adsense अकाउंट हे तो आप behavior में जाके Publisher में जाके आपकी revenue Income डिटेल में देख सकते हो.



friends, how to read google analytics आपने ऊपर के Terms जान लिए हे तो आपको गूगल एनालिटिक्स चेक करना आ गया हे, गूगल एनालिटिक्स के ऊपर के सारे Terms से हमें हमारी website पे कितना traffic आता हे और वो ट्रैफिक कहा से आता हे वो डिटेल में पता चलता हे, मतलब की अगर आपका Traffic Social Media से आता हे और Organic से नहीं आता हे तो आपको Google analytics से पता चल जायेगा, फिर आप अच्छे अच्छे Keyword Search करके के Blog Article  बनाके  उसको पोस्ट करोगे तो आपके Organic visitor बढ़ा सकते हे.

तो दोस्तों मेने यहाँ Try किया हे गूगल एनालिटिक्स में जो कुछ भी हे उसको Detail में समजाने का, आपको इससे जरूर बेनिफिट होगा, और अगर आपको कोई सवाल हे तो आप मुझे comment बॉक्स में से पूछ सकते हो.

 

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
, , ,

Post navigation

One thought on “Google analytics me website visitors track kaise kare?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *