Bullish Reversal patterns technical analysis sikhe in hindi

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Bullish Reversal patterns मतलब की वो पैटर्न आने के बाद आपको Stock buy करना हे , वो बहुत ही बढ़िए और बहुत सालो से प्रॉफिटेबल Bullish Reversal patterns हे

 

Double Bottom Bullish Reversal patterns

डबल बॉटम एक बहुत ही आसान और बहुत ही बढ़िया Bullish Reversal patterns है  यह तब आती है जब मार्केट ऊपर से बहुत नीचे गिरा हुआ होता है और यह पैटर्न को अगर आप ध्यान से देखेंगे और अच्छी तरह ट्रेड करेंगे तो आप बहुत ही प्रॉफिट कमा सकते हो ,रिवर्सल मतलब कि ऊपर से मार्केट नीचे आ रहा है और फिर वह जो पैटर्न बनता है उसके बाद मार्केट ऊपर जाता है इसलिए उसको Double Bottom Bullish Reversal patterns बोलते हैं क्योंकि वह दो बॉटम बनाता है और उसके बाद मार्केट ऊपर जाता है,
Double Bottom को पहचाने कैसे तो मैंने जैसे आपको बताया वैसे कि एक डाउन ट्रेंड होना चाहिए मतलब मार्केट है या कोई भी स्टॉक है वह ऊपर से नीचे की ओर चला आता हुआ होना चाहिए जैसे कि आप देखोगे के डाउन ट्रेंड  होता है तो जो स्टॉक का प्राइस होता है वह ऊपर से नीचे की ओर आता है फिर कोई एक लेवल होता है वहां रुक जाता है और फिर ऊपर बढ़ना चालू करता है,फिर ऊपर जाते जाते वह थोड़ा ऊपर जाता है और फिर वापस नीचे की और गिरना स्टार्ट करता है और फिर वह क्या करता है जो पहला लेवल होता है जहां पर प्राइस रुका हुआ होता है क्योंकि फर्स्ट बॉटम होता है वही वह वापस रुक जाता है और फिर वापस ऊपर की ओर बढ़ना स्टार्ट करता है, यानी कि मैं आपको बोलूं कि आपको डब्लू बनाना है तो डब्लू कैसे बनता है तो डब्लू में क्या होता है कि ऊपर से पहले आप LINE नीचे की ओर खींचते हो फिर एक लेवल पर रुका देते हो फिर LINE थोड़ी ऊपर ले जाते हो फिर वापस से LINE थोड़ी नीचे लाकर जो पहले वाली लाइन का लेवल है वहीं पर रुका देते हो और फिर वापस ऊपर खींच लेते हो तो डबल बॉटम में भी ऐसा ही होता है आप देखोगे तो प्राइस जो कि ऊपर से नीचे की ओर आती है और फिर एक लेवल पर रुक जाती है और फिर थोड़ा ऊपर जाती है और फिर वापस नीचे आकर पहले वाले लेवल पर ही रुक जाती है और फिर ऊपर बढ़ जाती है तो वह जो लेवल होते हैं उसको बॉटम बोलते हैं और वह लेवल जो होते हैं वह 2 लेवल होते हैं इसीलिए हम इसको डबल बॉटम बोलते हैं
यानी कि डबल बॉर्डर के लिए आपको डब्लू देखना है अगर w फॉर्म हो रहा है तो आप समझ लीजिए कि वह रिवर सर पैटर्न है लेकिन बहुत लोगों को पता नहीं कि उसको ट्रेड कैसे करता है और हर किसी का ट्रेडिंग स्टाइल अलग अलग होता है कई लोग है कि डब्लू की जो बीच की लाइन होती है उसके ऊपर प्राइस आता है तभी बुय ट्रेड ले लेते हैं कोई लोग है जो पूरा w को खत्म होने देते हैं और फिर ट्रेड लेते हैं तो अभी आप को कैसे ट्रेंड लेना है यह आपको डिसाइड करना है लेकिन अगर यह पैटर्न बन रही है या आ रही है तो आप समझ लीजिए दोस्तों की बहुत बढ़िया रिवर्सल आया हुआ है और मार्केट अब यहां से ऊपर की ओर जाने वाला है
आप नीचे का चार्ट देखोगे तो उसमें बहुत ही बढ़िया डबल बॉटम बुलिश रेवेर्सल पैटर्न बना हुआ है और फिर प्राइस बहुत ही बढ़िया तरीके से ऊपर की और गया हुआ है तो उसको बुलिश रिवर्सल इसलिए बोलते हैं क्योंकि इसके बनने के बाद प्राइस जो है वह बुलिश हो जाती है और ऊपर की ओर जाती है

 

 

 

 

Bullish Reversal patterns

Head & Shoulders Reversal patterns technical analysis

Head & Shoulders Pattern  मतलब की  टेक्निकल एनालिसिस  चार्ट पे बहुत सारे candlestick मिलाके एक price pattern बनता  हे वो आदमी का head ( माथा)  और दो shoulder ( खभे ) जैसा होता हे, Bullish Reversal patterns में जो की उल्टा होता हे , जो आपको बताता हे की ट्रेंड रिवर्स हो रहा हे. इस पैटर्न को अछि तरह समज ने के लिए आप निचे का stock chart देख सकते हो. इसमें प्राइस पहले निचे जा रही हे फिर हेड एंड शोल्डर्स बुलिश रेवेर्सल पैटर्न मतलब की वो बुलिश पैटर्न आने के बाद स्टॉक या इंडेक्स का प्राइस ऊपर की और आने लगता हे. आप निचे की इमेज में देख सकते हो.

 

 

 

Triple Bottom Bullish Reversal patterns

Triple bottom Bullish Reversal patterns हे, जब स्टॉक निचे की और जाता हे तो कोई प्राइस लेवल पे जाके वापस ऊपर आ जाता हे तो वो प्राइस लेवल बॉटम १ हे और फिर स्टॉक थोड़ा ऊपर आके सपोर्ट लेके फिर वापस निचे जाता हे और वापस से वो ही प्राइस लेवेल पे अटक जाता हे और निचे की और आने लगता हे तो वो प्राइस लेवल पे दूसरी बार अटक गया वो बॉटम २ हे. और इस तरह से तीसरी बार भी होता हे तो वो बॉटम ३ हे फिर ऊपर के और जो सपोर्ट लाइन होती हे उसको तोड़ देता हे तो उसको हम Triple Bottom bullish Reversal patterns technical analysis बोलते हे.आप निचे की इमेज में देख सकते हो कैसे बना हे

 

 

Bearish Reversal patterns technical analysis in hindi

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Post navigation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *