किसान क्रेडिट कार्ड क्या होता है , क्रेडिट कार्ड को किस तरह से पाए जानिए हिंदी में

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

 

 

 

किसान क्रेडिट कार्ड किसान के लिए बहुत ही उपयोगी हे.

 

किसान क्रेडिट कार्ड से आपके पास पैसे ना होते हुए भी उस क्रेडिट कार्ड का यूज़ करते हुए अपनी खेती के लिए जो भी जरूरी सामान हे जैसे की बीज ,कीड़े मरने की दवाई ,फिर खाद होता है फिर आप जो इंस्ट्रूमेंट होते हैं वह सब ले सकते हो और आप खेती कर सकते हो, कई बार क्या होता हे की किसान के पास जमीन होती हे पर वो खेती के लिए सामान न होने की वजह से अच्छी खेती नहीं कर पाते हे, तो इस किसान क्रेडिट कार्ड का यूज़ करते हुवे किसान अपनी समस्या को हल कर सकते हे.

किसान क्रेडिट कार्ड

 

कभी-कभी क्या है कि जो किसान होता है वह अपने पूरे पैसे खेती की फसल के लिए लगा देता है फिर उसके बाद उसके पास पैसे नहीं होते कि वह अपना खर्च निकाल सके और जो भी फसल है उसमें अगर कुछ आगे कुछ खर्च आता है वह कर सकते हैं तो किसान क्रेडिट कार्ड की मदद से आप यह कर सकते हैं

बैंक किसानों की सफलता के लिए उन्हें एक किसान क्रेडिट कार्ड देता है उसके लिए किसान को बैंक में खाता खुलवाना पड़ता है.

 

किसान क्रेडिट कार्ड आपको अगर मिलता है तो उसको आप ATM यूज़ करके पैसे निकाल सकते हो और अगर किसान को भी खाद और कीड़े मारने की जो दवाई होती है वह खरीदनी है तो वह किसान क्रेडिट कार्ड का यूज़ करते हुए उसको खरीद सकते हैं

 

अब दोस्तों आपको यह प्रश्न होता होगा कि यह पैसा जो हमें एक तरफ से लोन के हिसाब से मिलेगा क्रेडिट कार्ड में उसको हम चुकाएंगे कैसे तो उसके लिए किसान क्या करते हैं कि उनके पास जब भी फसल पकने के बाद पैसा आता है तो उसको बैंक में जो खता खुला हे उसमे जमा करवाना होता हे तो आपने अब तक जो भी पैसा बैंक से लिया हुआ है और वहा फसल पकने के बाद उसको जमा कर सकते.



 

इस किसान क्रेडिट कार्ड से आपको फसल के लिए ही नहीं अगर आपको कोई बीमारी है और अगर अचानक खर्चा आ
जाता है तो भी यूज कर सकते हो या कोई और जरूरत आ जाती है तो भी किस किसान क्रेडिट कार्ड को आप यूज़ कर सकते हैं

तो किसानो के लिए बैंको ने किसान क्रेडिट कार्ड एक बहुत ही बढ़िया सहूलियत दी हे, उसके बारेमे ज्यादा जानने के लिए किसान अपनी निकटम बैंक में जाके  ज्यादा जानकारी लेके इस KISAN CREDIT CARD का उसे कर सकते हे.



Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Post navigation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *